अपडेट
शुद्धिपत्र ” नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण” 22/10/2019     | नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण 30/09/2019     | नाल्को में नवीकरणीय ऊर्जा पर कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए रुचि की अभिव्यक्ति 21/09/2019     | आज माननीय खान मंत्री श्री प्रल्हाद जोशी की उपस्थिति में संयुक्त उद्यम खनिज बिदेश इंडिया लिमिटेड (KABIL) का समझौता खान मंत्रालय के अंतर्गत नालको, एचसीएल और एमईसीएल द्वारा किया गया | 01/08/2019     | नालको के लिए वर्ष का नवरत्न पुरस्कार 14/06/2019     | 2019-20 के लिए लागत और कार्य लेखा परीक्षक की नियुक्ति 31/05/2019     | 31.03.2019 को समाप्त वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम 30/05/2019     | Recruitment Advertisement of PESB for the post of Director (HR) 02/05/2019     | 2019-20 के लिए PRMBS योगदान का संशोधन 02/04/2019     | अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उद्यमियों से विक्रेता पंजीकरण के लिए बुलावा 24/01/2019     | कें.सा.क्षे.उ. इंटरनेट के लिए समन्वय ज्ञान प्रबंधन पोर्टल के बारे में जानकारी 10/08/2018     | सार्वजनिक सूचना 26/01/2018     | ज्ञानालोक – अपना रचनात्मक कौशल प्रदर्शित करें और पुरस्कार पाएँ 25/07/2018     |

यादों के झरोखे से

2018
  • द्वितीय अयस्क तार-छड़ एकक का शिलान्यास
  • नई निगम योजना 2017-32 उन्मोचित
  • पंचपटमाली बॉक्साइट खान के दक्षिणी प्रखंड से उत्पादन आरंभ हुआ।
2017
  • दुनिया में अपनी तरह का पहला, एम्रिऑन नानो-तकनीकी आधारित डीफ्लूरोडाइजेशन संयंत्र चालू हुआ।
  • खान मंत्रालय द्वारा पंचपटमाली बॉक्साइट खान को पाँच सितारा पदवी निर्धारण
  • भारत के तत्कालीन माननीय राष्ट्रपति के कर-कमलों से नवरत्न/महारत्न वर्ग में स्कोप उत्कृष्टता पुरस्कार और निगम सामाजिक उत्तरदायित्व
2016
  • देवीकोट, जैसलमेर, राजस्थान में 50 मेगावाट क्षमता का तीसरा पवन विद्युत संयंत्र चालू हुआ।
  • सागंली, महाराष्ट्र में 50.4 मेगावाट क्षमता का चौथा पवन विद्युत संयंत्र चालू हुआ।
2014
  • लुडर्वा, जैसलमेर, राजस्थान में 47.6 मेगावाट क्षमता का दूसरा पवन विद्युत संयंत्र चालू हुआ।
  • निगम कार्यालय में 160 केवीपी का छत पर सौर विद्युत संयंत्र – मई 2014
2013
  • परिशोधक की क्षमता उन्नयन पूरा हुआ।
2012
  • गंडीकोटा, आन्ध्रप्रदेश में 50.4 मेगावाट क्षमता का पहला पवन विद्युत संयंत्र चालू हुआ।
2011
  • महारत्न & नवरत्‍न संवर्ग में नि.सा.उ. के लिए लोक उद्यम उत्कृष्टता पुरस्कार – 2011
  • द्वितीय चरण विस्तार पूरा हुआ – 2011
2010
  • सीएसआर के लिए नालको फाउण्डेशन पंजीकृत – जुलाई 2010
  • प्रधानमंत्री से श्रेष्ठ सूचीबद्ध कें.सा.क्षे.उ. पुरस्कार – 2010
  • जुलाई 2010 में अंगुल एल्युमिनियम पार्क की स्थापना के लिए इडको के साथ जेवी कंपनी का गठन
  • सभी एककों के लिए सामाजिक जवाबदेही (एस.ए. – 8000) मानक प्रमाणपत्रण –अक्तूबर 2010 से
2009
  • प्रीमियर ट्रेडिंग हाउस की उपाधि – सितंबर 2009
2008
  • नवरत्‍न उपाधि – अप्रैल 2008
2005
  • पाँच सितारा निर्यात व्यवसाय घराने की पदवी – 2005
2004
  • प्रथम चरण विस्तार पूरा हुआ – 2004
2002
  • खान और एल्यूमिना रिफाइनरी विस्तार के पहले चरण का समर्पण – अप्रैल 2002
2000
  • भारत सरकार द्वारा इन्दिरा गांधी पर्यावरण पुरस्कार – 2000
1999
  • प्रथम ईईपीसी निर्यात पुरस्कार – 1998-99
1994
  • इन्दिरा प्रियदर्शिनी वृक्षमित्र पुरस्कार द्वारा भारत सरकार – 1994
1992
  • स्टार ट्रेडिंग हाउस की पदवी – जनवरी, 1992
1989
  • लन्दन धातु बाजार में पंजीकरण – मई, 1989
  • स्व॰ श्री राजीव गान्धी द्वारा राष्ट्र को समर्पण – जून, 1989
1988
  • एल्यूमिना निर्यात आरम्भ हुआ – जनवरी, 1988
  • एल्यूमिनियम निर्यात आरम्भ हुआ – सितम्बर, 1988
  • प्रथम कैपेक्सिल निर्यात पुरस्कार –1988
1987
  • एल्यूमिनियम स्मेल्टर का कमीशन
  • एल्यूमिनियम की बिक्री आरम्भ हुई – मई, 1987
1986
  • एल्यूमिना परिशोधक का कमीशन – सितबंर 1986
  • ग्रहीत विद्युत संयंत्र का कमीशन – सितबंर 1986
1985
  • पत्तन सुविधाएँ का कमीशन – सितंबर 1985
  • बॉक्साइट खान का कमीशन – नवबंर 1985
1981
  • कंपनी का गठन – जनवरी, 1981
  • स्व॰ श्रीमती इन्दिरा गान्धी द्वारा आधारशिला रखी गई – मार्च, 1981
1980
  • सरकार द्वारा निवेश का निर्णय – जनवरी, 1980
1979
  • नालको की सम्भाव्यता रिपोर्ट की प्रस्तुति – जुलाई,1979
1975
  • पूर्व तट बॉक्साइट की खोज -1975