अपडेट
शुद्धिपत्र ” नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण” 22/10/2019     | नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण 30/09/2019     | नाल्को में नवीकरणीय ऊर्जा पर कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए रुचि की अभिव्यक्ति 21/09/2019     | आज माननीय खान मंत्री श्री प्रल्हाद जोशी की उपस्थिति में संयुक्त उद्यम खनिज बिदेश इंडिया लिमिटेड (KABIL) का समझौता खान मंत्रालय के अंतर्गत नालको, एचसीएल और एमईसीएल द्वारा किया गया | 01/08/2019     | नालको के लिए वर्ष का नवरत्न पुरस्कार 14/06/2019     | 2019-20 के लिए लागत और कार्य लेखा परीक्षक की नियुक्ति 31/05/2019     | 31.03.2019 को समाप्त वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम 30/05/2019     | Recruitment Advertisement of PESB for the post of Director (HR) 02/05/2019     | 2019-20 के लिए PRMBS योगदान का संशोधन 02/04/2019     | अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उद्यमियों से विक्रेता पंजीकरण के लिए बुलावा 24/01/2019     | कें.सा.क्षे.उ. इंटरनेट के लिए समन्वय ज्ञान प्रबंधन पोर्टल के बारे में जानकारी 10/08/2018     | सार्वजनिक सूचना 26/01/2018     | ज्ञानालोक – अपना रचनात्मक कौशल प्रदर्शित करें और पुरस्कार पाएँ 25/07/2018     |

सूचना का अधिकार संक्षिप्त परिचय

नालको में सूचना सिद्धान्त

प्रत्येक सार्वजनिक प्राधिकारी की कार्यकारिता में पारदर्शिता और उत्तरदायित्व को बढ़ावा देने के लिए सार्वजनिक प्राधिकारियों के नियन्त्रणाधीन सूचना तक सुरक्षित पहुँच हेतु भारत के नागरिकों के लिए सूचना के अधिकार की व्यावहारिक शासन-व्यवस्था की स्थापना के लिए 15 जून 2005 को सूचना का अधिकार अधिनियम,2005 बनाया गया।

खान मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन एक जिम्मेदार निगम नागरिक और एक सार्वजनिक प्राधिकारी के रूप में नालको, अधिकतम स्तर की पारदर्शिता प्राप्ति, जबाबदेही और अपने समस्त प्रचालनों तथा अपने सभी अंशधारकों अर्थात् शेयरधारकों, कर्मचारियों, ग्राहकों, सरकारी बैंकरों, व्यापक रूप से समाज आदि के साथ अपने कार्य-व्यवहार के सभी पहलुओं में तथ्यों की समानता उपलब्ध करते हुए अच्छे निगम अभिशासन में विश्वास रखता है और सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के अन्तर्गत भारत के नागरिकों को अपने नियन्त्रणाधीन सूचना तक पहुँच प्रदान करने में विश्वास रखता है।