अपडेट
आज माननीय खान मंत्री श्री प्रल्हाद जोशी की उपस्थिति में संयुक्त उद्यम खनिज बिदेश इंडिया लिमिटेड (KABIL) का समझौता खान मंत्रालय के अंतर्गत नालको, एचसीएल और एमईसीएल द्वारा किया गया | 01/08/2019     | नालको के लिए वर्ष का नवरत्न पुरस्कार 14/06/2019     | 2019-20 के लिए लागत और कार्य लेखा परीक्षक की नियुक्ति 31/05/2019     | 31.03.2019 को समाप्त वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम 30/05/2019     | Recruitment Advertisement of PESB for the post of Director (HR) 02/05/2019     | Recruitment Advertisement of PESB for the post of CMD, NALCO 02/05/2019     | 2019-20 के लिए PRMBS योगदान का संशोधन 02/04/2019     | अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उद्यमियों से विक्रेता पंजीकरण के लिए बुलावा 24/01/2019     | कें.सा.क्षे.उ. इंटरनेट के लिए समन्वय ज्ञान प्रबंधन पोर्टल के बारे में जानकारी 10/08/2018     | सार्वजनिक सूचना 26/01/2018     | ज्ञानालोक – अपना रचनात्मक कौशल प्रदर्शित करें और पुरस्कार पाएँ 25/07/2018     |

शिक्षा

नालको ने शिक्षा के क्षेऽ में कई पहल की हैं। कक्षा के कमरों, पानी की आपूर्ति व्यवःथा, शौचालय और विद्यालयों की चहारदीवारी के निमार्ण से लकर पिरधीय विद्यालयों के विद्यार्थी र् के लिए साहित्यिक प्रतियोगिताओं का आयोजन, विज्ञान पर्दाशिनयों र् और अध्ययन पयटनर् का आयोजन, पिरधीय विद्यालयों के मेधावी छात्रों को सम्मानित करने के साथ, छत के पंखे, फनीर्चर, विज्ञान के उपकरणों की आपूर्ति और पुस्तकालय की पुस्तकों की आपूर्ति तक अनेक कल्याण कायर् किए हैं। पिरधीय स्कूलों के लिए कंपनी ने हाल ही में अनगु ळु और दामनजोड़ी में “नालको की लाड़ली” नामक योजना शुरू की है जो भारत सरकार की “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” कायबमर् के तहत बीपीएल / गरीब पिरवारों के मेधावी लड़िकयों को ूोत्सािहत कर रही है। सोसायटी ऑफ ऑटोमोिटव इंजीिनयस,र् एनआईटी, राउरकेला के – फामला स्टूडेंट इंडिय 2015 चैंपियनशिप के लिए छात्रों की फार्मूला कार के लिए 0.6 लाख की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

नालको दामनजोड़ी और अनगुळु क्षेऽ म +2 स्तर तक चार स्कूल चलाती है:

  • दो ओड़िआ-माध्यम (सरस्वती विद्या मंदिर)
  • दो अंग्रेजी -माध्यम (दिल्ली पिब्लक स्कूल)

ये विद्यालय नालकोवालों और गरै-नालकोवालों दोनों के बच्चों को गुणवत्तापूणर् शिक्षा प्रदान करते हैं। अपने निजी स्कूलों के अलावा, कंपनी नालको के सयंत्रि और सुविधाओं के आसपास स्थित संस्थानों के लिए आनुषंगिक और शैखइक सहायता (यथा- पुस्तकों, फनीर्चर और प्रयोगशाला उपकरण) प्रदान करती है। प्राढ़ शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए कंपनी वयास्क शिक्षा केन्द्रीय की सहायता कर रही है।

नालको ने अविभाजीत कटक जिले के चबवात से प्रभावित क्षेऽ में ओड़िशा सरकार और प्रधान मंत्री कायालयर् की ओर से 144 स्कूल भवनों के निर्माण् को सफलतापवूकर् परा कर लिया है। इसके अितिरक्त जगतिसंहपुर जिले में और 53 संख्यक स्कूलों के निर्माण् का कायर् फिर नालको को सौंपा गया, जिसे परा करके ओड़िशा सरकार को सौंप दिया गया।

Education