अपडेट
शुद्धिपत्र ” नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण” 22/10/2019     | नाल्को के साथ प्रौद्योगिकी का अनुसंधान एवं विकास सहयोग / व्यावसायीकरण 30/09/2019     | नाल्को में नवीकरणीय ऊर्जा पर कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए रुचि की अभिव्यक्ति 21/09/2019     | आज माननीय खान मंत्री श्री प्रल्हाद जोशी की उपस्थिति में संयुक्त उद्यम खनिज बिदेश इंडिया लिमिटेड (KABIL) का समझौता खान मंत्रालय के अंतर्गत नालको, एचसीएल और एमईसीएल द्वारा किया गया | 01/08/2019     | नालको के लिए वर्ष का नवरत्न पुरस्कार 14/06/2019     | 2019-20 के लिए लागत और कार्य लेखा परीक्षक की नियुक्ति 31/05/2019     | 31.03.2019 को समाप्त वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम 30/05/2019     | Recruitment Advertisement of PESB for the post of Director (HR) 02/05/2019     | 2019-20 के लिए PRMBS योगदान का संशोधन 02/04/2019     | अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उद्यमियों से विक्रेता पंजीकरण के लिए बुलावा 24/01/2019     | कें.सा.क्षे.उ. इंटरनेट के लिए समन्वय ज्ञान प्रबंधन पोर्टल के बारे में जानकारी 10/08/2018     | सार्वजनिक सूचना 26/01/2018     | ज्ञानालोक – अपना रचनात्मक कौशल प्रदर्शित करें और पुरस्कार पाएँ 25/07/2018     |

स्वास्थ्यदेखभाल

नालको ने स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में अनगिनत योगदान किए हैं। सार्वजिनक स्वास्थ्य केंद्र का नवीनीकरण; उष्माघात निरोधक कमरे और उप केंद्र भवनों का निमार्ण; चलती – फिरती स्वास्थ्य सेवा और परिधीय गाँवों के लिए मुफ्त दवा; चिह्नत गाँवों के लिए मुफ्त पशु चिकित्सा सेवा; प्राकृितक आपदाओं के दौरान सहायता आिद – इन सभी क्षेत्रों में कंपनी द्वारा अच्छी तरह से ध्यान दिया गया है। यह उल्लेखनीय है कि अनगुळु में 43 परिधीय गाँवों और दामनजोड़ी में 142 गाँवों में चलती – फिरती स्वास्थ्य एकक सचांलित हैं। कंपनी स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन करने के अलावा, पिरधीय गाँवों के मरीजों को मुफ्त में इलाज सुविधा प्रदान करती है। नालको ने पशुओं की चिकित्सा के लिए मत्स्य पालन और पशुपालन विभाग (एफएआरडी), ओडिशा सरकार के लिए एक एम्बुलेंस जैसी आपरेशन थियटर वैन दान की है। एल.वी. प्रसाद नेत्र संस्थान (एलवीपीईआई) के सहयोग से कंपनी अनुगळु में एक आधुिनक नेत्र अस्पताल की स्थापना कर रही है जिसमें 15 करोड़ का प्रारंभिक निवेश हो रहा है। यह अस्पताल पड़ोसी गाँवों के आर्थिक रूप से वंचित समूहों की सेवा करेगा।

नालको का 60 बिस्तरों वाला माध्यिमक स्तर का स्वास्थ्य-देखभाल अस्पताल हाईटेक मशीनों की स्थापना से पुननवीकृत किया जा रहा है। नालको ने हाल ही में अपने परिधीय विकास कायबमर् के तहत नालको नगर, अनुगळु में एक वाह्य रोगी विभाग की सुविधा स्थापित की है, जो 39 परिधीय गाँवों को लाभान्वित करता है। दामनजोड़ी में ओपीडी सुविधा प्रदान करने की योजना सक्रिय रूप से विचाराधीन है।

नालको ने स्वस्थ्य क्षेत्र में भुवनेश्वर और ओडिशा के अन्य स्थानों में सरकारी अस्पतालों का उल्लेखनीय अंशदान दिया है, यथा- आस्का में बाल चिकित्सा वार्ड का विकास, हेल्प एज इंडिया, भुवनेश्वर को चार एम्बुलेंसों और एक मतृ शरीर वाहक मेडिकल वैन का दान और बैंक ऑफ इंडियन रेड बॉस सोसाइटी, खुदार् शाखा में औषधि-बैंक की स्थापना के लिए आर्थिक सहायता तथा एस.एस.बी. नेत्र अःपताल, भुवनेश्वर को लेजर – किट नेत्र-उपकरण का दान किया है।

health care