press release

नालको प्रमुख ने कीट, किस्स एवं किम्स का परिदर्शन किया

calender12/11/2015

भुवनेश्वर, 12/11/2015: नालको द्वारा चलाए गए उद्योग – संस्थान पारस्परिक सहक्रिया कार्यक्रम के अन्तर्गत, श्री तपन कुमार चान्द, अध्यक्ष-सह-प्रबन्ध-निदेशक, नालको, ने किस्स(के.आई.एस.एस.) परिसर का, इसके संस्थापक श्री अच्युत सामन्त के निमन्त्रण पर, पहली बार परिदर्शन किया। किस्स द्वारा हाथ में ली गई शिक्षण गतिविधियों और ओड़िशा और अन्य स्थानों के आदिवासी गाँवों से विद्यार्थियों की शिक्षा पर ध्यान-केन्द्रित किए जाने से प्रभावित, श्री चान्द ने कहा कि किस्स निश्चित रूप से चीनी शिक्षण संस्थानों को इसके प्रचालन के परिणाम में पछाड़ देगी। विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए, श्री चान्द ने विद्यार्थियों को जीवन में सफलता के लिए सकारात्मक मनोवृत्ति रखने और कठिन परिश्रम करने की सलाह दी। उन्होंने भारत के टेक्स क्रिकेट कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का उदाहरण दिया कि किस प्रकार केन्द्रीय कोयला क्षेत्र के एक विनीत कर्मचारी के परिवार से होने के बावजूद वे भारत के टेस्ट कप्तान के पद पर पहुँचे।

“जीवन का लक्ष्य क्रिया को सशक्त करता है। अतः सफलता के लिए सही प्रकार की ऊर्जा पाने के लिए सही लक्ष्य रखना महत्वपूर्ण है।” श्री चान्द, अपनी धर्मपत्नी श्रीमती प्रीति रॉय चान्द के साथ पधारे थे, जो केन्द्रीय विद्यालय के प्राचार्य के पद पर कार्यरत हैं, उन्होंने नालको कर्मचारियों और उनके परिवार से सदस्यों की ओर से विद्यार्थियों को शुभकामनाएँ प्रदान की। कीट के संस्थापक श्री अच्युत सामन्त ने श्री तपन कुमार चान्द और श्रीमती प्रीति राय का उनके प्रथम परिदर्शन पर अभिनन्दन किया। श्री सामन्त ने श्री चान्द का एक समर्पित, सक्रिय और कठिन परिश्रमी शीर्षस्थ पेशेवर के रूप में वर्णन किया जिन्होंने नवरत्न कम्पनी नालको की प्रत्यक्षता को ऊँचा उठाया और इसकी खनिज सुरक्षा को सुनिश्चित करने में सफल हुए। श्री सामन्त ने नालको की निगम सामाजिक उत्तरदायित्व गतिविधियों और ओड़िशा में इसकी भारी निवेश योजना की भूरि-भूरि प्रशंसा की।